रैकिट का खुलासाः जुगाड़ के सॉफ्टवेयर से बुक करते थे ट्रेन के रिजर्व टिकट

लखनऊ,एक ओर रेल यात्री तत्काल टिकट के लिए रतजगा कर रहे हैं वहीं दलाल जुगाड़ के सॉफ्टवेयर से रेलवे के सिस्टम में सेंध लगाकर सैकड़ों टिकट बना रहे हैं। गुरुवार को आरपीएफ की सीआईबी शाखा ने ऐसे ही रैकिट का खुलासा किया है। लखऊ में दो दलालों के पास से 713 आरक्षित टिकट बरामद किए गए हैं। जिनकी कीमत 12.88 लाख रुपये है। 

एनईआर के प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त अतुल कुमार श्रीवास्तव व वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त अमित मिश्र ने गर्मी की छुट्टियों के दौरान आरपीएफ टीमों को टिकट दलालों की धरपकड़ के लिए लगा रखा है। लखनऊ जंक्शन के सीआईबी प्रभारी अमित कुमार की दो टीमों ने गुरुवार को आशियाना के ट्रैवेल जोन व चौक में एसके ट्रैवल्स पर एक साथ छापेमारी कर टिकट रैकेट का भंडाफोड़ किया है। दोनों जगह एजेंटों ने आरपीएफ को चकमा देने की कोशिश की लेकिन उनकी एक न चली। 

आरपीएफ ने आशियाना के अमित मिश्र व सीतापुर निवासी राकेश यादव को हिरासत में ले लिया। सीआईबी के मुताबिक आशियाना के ट्रैवेल जोन के अमित मिश्र के पास से विभिन्न तारीखों के 642 टिकट बरामद किए गए हैं। इन टिकटों की कीमत 11,71,670 रुपये बताई जा रही है। आरपीएफ की टीम में कैलाश प्रसाद, अनिरुद्ध चंद्र शर्मा, कौशल शुक्ल, गोविंद प्रसाद, अरविंद चंद्र, राकेश दुबे शामिल रहे। 

रेलवे की साइट में लगाते थे सेंध
सीआईबी के मुताबिक पकड़े गए दलाल जुगाड़ के सॉफ्टवेयर से रेलवे की वेबसाइट में सेंध लगाकर चंद मिनटों में कई-कई टिकट बना डालते थे। ट्रैवेल जोन से आरपीएफ ने चार पासबुक, छह एटीएम कार्ड, चेकबुक, कम्प्यूटर व हजारों रुपये कैश बरामद किए। चौक के टिकट दलाल के पास से 71 आरक्षित टिकट मिले हैं। इनकी कीमत 1,16,505 रुपये है। वहां से भी आरपीएफ ने एक एटीएम, कम्प्यूटर, प्रिंटर, मॉनिटर और 1,570 रुपये बरामद किए हैं। पकड़े गए टिकट दलालों के खिलाफ रेलवे ऐक्ट की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। 

बीकेटी में सिटी स्टेशन इंचार्ज ने पकड़ा दलाल
पूर्वोत्तर रेलवे के सिटी स्टेशन आरपीएफ प्रभारी एमके खान ने भी एक दलाल को गिरफ्तार किया है। उन्होंने गुरुवार को एयर फोर्स रोड स्थित अमन कैफे एंड सर्विसेज पर छापा मारा। छापे के दौरान आईआरसीटीसी से लाइसेंस बगैर वहां पैसेंजर्स के टिकट बनाने का काम किया जा रहा था। इसके बाद एमके खान ने आशियाना की रेल विहार कालोनी के रहने वाले मफताब अली को हिरासत में ले लिया । उसके पास से 14 ई टिकट बरामद हुए हैं जिनकी कीमत 25,493 रुपये है। उसके खिलाफ भी रेलवे ऐक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। 

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.