दाऊद इब्राहिम हमारे देश का नागरिक नहीं: डोमिनिका सरकार


रोसेउ,31 अगस्त । कैरेबियाई देश रिपब्लिक ऑफ डोमिनिका की सरकार ने कहा है कि मुंबई बम धमाकों का दोषीदाऊद इब्राहिम उनके देश का नागरिक नहीं है। उन्होंने कहा कि दाऊद कभी भी उनके देश का नागरिक नहीं रहा और न ही उसके पास डोमिनिका का पासपोर्ट है। इससे पहले भारतीय डोजियर में कहा गया था कि दाऊद इब्राहिम ने इकनॉमिक सिटिजनशिप प्रोग्राम के तहत डोमिनिका का पासपोर्ट हासिल किया है।


डोमिनिका सरकार ने एक बयान जारी करके कहा, दाऊद इब्राहिम न तो डोमिनिका का नागरिक है और न ही कभी रहा है। दाऊद इकनॉमिक सिटिजनशिप प्रोग्राम के तहत भी कभी डोमिनिका का नागरिक नहीं रहा। सरकार ने एक बयान जारी कर कहा कि इस तरह की सभी खबरें झूठी हैं। इससे पहले भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने कहा था कि दाऊद इब्राहिम अलग-अलग नाम और पते से कई पासपोर्ट रखता है। इसमें भारत, पाकिस्तान, दुबई और कॉमनवेल्थ ऑफ डोमिनिका शामिल है।
भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में 1993 में हुए 13 बम धमाकों से न सिर्फ देश बल्कि पूरी दुनिया हिल गई थी। इस आतंकी घटना में 350 लोगों की मौत हुई थी और 1200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। 2003 में भारत सरकार ने अमेरिका से मिलकर इसके जिम्मेदार दाऊद इब्राहिम को ग्लोबल टेररिस्ट (वैश्विक आतंकवादी) घोषित करा दिया था। भारत के कई बार सबूत पेश किए जाने के बाद भी पाकिस्तान ने हमेशा उसके अपने यहां होने से इनकार किया लेकिन आखिरकार वह अपने ही जाल में फंस गया।
फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स की ग्रे लिस्ट में आने से बचने के लिए पाकिस्तान ने 88 आतंकी संगठनों और उनके आकाओं की लिस्ट जारी की जिनपर प्रतिबंध लगाने का उसने दावा किया है। इस लिस्ट में दाऊद का नाम शामिल करके पाकिस्तान ने मान लिया है कि भारत का गुनहगार उसकी जमीन पर आराम से रह रहा है। पाकिस्तान ने जो दस्तावेज जारी किया है, उसमें बताया है कि शेख दाऊद इब्राहिम कासकर का जन्म भारत के महाराष्ट्र में रत्नागिरी के खेर में 26 दिसंबर, 1955 को शेख इब्राहिम अली कासकर के घर में हुआ था। उसकी नागरिकता भी भारतीय बताई गई है। साथ ही उसके सभी नामों जैसे दाऊद हसन, अद्बुल हमीन अब्दुल आजीज, दाऊद साबरी, दाऊद भाई, हाजी भाई, बड़ा भाई, आदि का जिक्र भी किया गया है।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.