प्रियंका का मोदी पर हमला- किसानों का हक मार उ्दयोगपतियों को लाभ पहुंचा रही सरकार

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी इन दिनों अमेठी और रायबरेली के दौरे पर हैं. प्रियंका गांधी युद्ध स्तर पर चुनाव प्रचार में जुट गई हैं. प्रियंका गांधी ने रायरबरेली में एक नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला. प्रियंका गांधी ने कांग्रेस की नितियों का भी प्रचार किया. प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने वादा किया है कि अगर पार्टी सरकार में आती है तो ग्रामीण इलाकों में लोगों को 10 लाख नौकरियां दी जाएंगी. हम सत्ता में आते ही इस पर काम करेंगे.

नोटबंदी पर हमला बोलते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि जब नोटबंदी की गई तो आपसे वादा किया गया कि काला धन वापस आ जाएगा. लेकिन काला धन वापस नहीं आया. किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई.  आवारा पशुओं का छोड़ा जाना भी यहां समस्या बना हुआ है, लेकिन अब  तक गोशाला का कोई प्रबंध नहीं किया गया है.

प्रियंका गांधी ने किसानों का धन उद्योगपतियों को वितरित करने का आरोप भी लगाया है. उन्होंने कहा कि किसानों के पैसे उद्योगपतियों को बांटे जा रहे हैं. 10,000 करोड़ रुपए उद्योगपतियों को बांट दिया गया.

प्रियंका गांधी ने कहा कि बीजेपी किसान सम्मान योजना एक परिवार के एक सदस्य को केवल 2 रुपए प्रतिमाह दे सकता है.  यह किसान अपमान योजना है. बीजेपी ने केवल उद्योपतियों का कर्ज माफ किया है. इस सरकार का मुख्य मुद्दा उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाना है.

प्रियंका गांधी ने कहा, ‘जब मेरे पिता(राजीव गांधी) प्रधानमंत्री थे, अमेठी आते रहते थे. अमेठी के लोगों के साथ रहते थे. हम भी उनके साथ आते थे. हम अमेठी में कभी बड़े बंगले में नहीं रहे. हम गांवों में जाकर लोगों से मुलाकात करते थे लेकिन प्रधानमंत्री मोदी कभी किसी गांव नहीं जाते. प्रधानमंत्री मोदी अपनी संसदीय सीट के गावों में पिछले 5 वर्षों में एक भी बार नहीं गए. उन्होंने एक भी किसान से मुलाकात नहीं की लेकिन अपने कार्यकाल में उन्होंने पूरी दुनिया घूम ली है.

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.