कुलदीप सेंगर मामले में CBI ने तत्कालीन डीएम अदिति सिंह समेत 2 IPS को माना दोषी, कार्रवाई की सिफारिश

लखनऊ. उन्नाव रेप केस (Unnao Rape Case) की जांच कर रही सीबीआई (CBI) ने तत्कालीन डीएम समेत दो आईपीएस और एक पीपीएस को दोषी मानते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की है. सीबीआई ने जिनके खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की है उनमें तत्कालीन डीएम अदिति सिंह (Aditi Singh), दो पूर्व एसपी नेहा पांडेय और पुष्पांजलि सिंह शामिल हैं. इसके अलावा तत्कालीन अपर पुलिस अधीक्षक अष्टभुजा सिंह के खिलाफ भी कार्रवाई की सिफारिश की गई है. सीबीआई ने चारों अधिकारियों को मामले में लापरवाही बरतने का दोषी माना है. सीबीआई ने चारों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की सिफारिश की है.

सीबीआई ने यूपी सरकार को भेजी रिपोर्ट
गौरतलब है कि  ने दुष्कर्म का आरोप सिद्ध होने पर बांगरमऊ के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को जेल भेजा था. सीबीआई ने यूपी सरकार को भेजी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इस मामले में तत्कालीन डीएम अदिति सिंह, एसपी नेहा पांडेय और पुष्पांजलि व अपर पुलिस अधीक्षक रहे अष्टभुजा प्रसाद सिंह की ओर से भी लापरवाही बरती गई. इसे देखते हुए इन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए.

डीएम हापुड़ हैं अदिति सिंह
बता दें 24 जनवरी से 26 अक्टूबर तक अदिति सिंह उन्नाव की डीएम रही थीं. 2 फरवरी 2016 से 26 अक्टूबर 2017 तक नेहा पांडे एसपी रहीं. 27 अक्टूबर 2017 से 30 अप्रैल 2018 तक पुष्पांजलि सिंह एसपी रहीं. अदिति फिलहाल हापुड़ की डीएम हैं. पुष्पांजलि सिंह एसपी (रेलवे गोरखपुर) हैं. नेहा पांडे केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर आईबी में हैं. अष्टभुजा सिंह पीएससी फतेहपुर में कमांडेंट हैं. पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को इस मामले में उम्रकैद की सज़ा सुनाई जा चुकी है. साथ ही पीड़िता के पिता की हत्या में दस साल की सज़ा कुलदीप को सुनाई गई है.


Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.