सरकार के नुमाइंदों के पास भी नहीं एम्फोटेरेसिन-बी इंजेक्शन | Shortage of Amphotericin-B Injection in Lucknow

सिर्फ बाजार ही नहीं अभी सरकार के नुमाइंदों के पास भी एम्फोटेरेसिन-बी इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हैं। यह दावा हम नहीं कर रहे, रेडक्रास सोसाइटी के चेयरमैन ओम प्रकाश पाठक ने स्वयं मंडलायुक्त को पत्र जारी कर किया है। कहा हैै कि हमें सिर्फ 50 वाॅयल मिली हैं। जबकि मरीजों की दी जाने वाले इंजेक्शन की डोज काफी अधिक है। ऐसे में इंजेक्शन किसे दें और किसे न दें यह समझना मुश्किल है। वहीं समय से इंजेक्शन और इलाज न मिल पाने की वजह से अस्पताल में भर्ती मरीजों की हालत दिन पर दिन गंभीर हो रही है।

Amphotericin B (50mg) Amfocare 50 Mg Injection, Prescription, Treatment:  Antifungal, Rs 170 /vial | ID: 21655372991

दरअसल एम्फोटेरेसिन-बी का नियंत्रण सरकार के पास है। कालाबाजारी रोकने के लिए उठाए गए इस कदम से बाजार में इसकी उपलब्धता नहीं है। सरकार ने निर्धारित अस्पतालों के अलावा तीमारदारों को रेडक्रास सोसाइटी के माध्यम से भी इसे उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए। जैसे ही इसकी सूचना ब्लैक फंगस से गंभीर मरीजों के तीमारदार को हुई वह कैसरबाग स्थित रेडक्रास सोसाइटी में पहुंचने लगे। जबरदस्त भीड़ लेकिन एम्फोटेरेसिन-बी की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता न होने से लोगों का गुस्सा फूटना शुरू हो गया।

720 इंजेक्शन की आवकश्यता मिले 50 कैसे वितरित हों: लोगों का आक्रोश देख डोज से काफी कम मात्रा मिलने पर इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी के चेयरमैन ने मंडलायुक्त को पत्र लिखा। इसमें कहा गया कि जितनी संख्या में मरीजों की डोज के अनुसार इंजेक्शन उपलब्ध कराए जाने को कहा गया है उसकी संख्या करीब 720 इंजेक्शन होनी चाहिए। लेकिन मात्र 50 इंजेक्शन मिले हैं। ऐसे में वितरण कैसे हो। मरीजो के परिवारीजन भारी संख्या में रेडक्रॉस आफिस के बाहर खड़े है। लेकिन रेडक्रास सोसाइटी के पास भी इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है।

हंगामे के बीच नौ लोगों को दिया गया एम्फोटेरेसिन-बी: रेडक्रास सोसाइटी के कार्यकारिणी सदस्य जितेंद्र सिंह चौहान, गौरव महेश्वरी ने बताया कि मिले 50 इंजेक्शन का वितरण नौ लोगों में करा दिया गया। सोसाइटी के सचिव अमरनाथ मिश्र के मुताबिक पहले यह निर्देश आए कि प्रति व्यक्ति एक इंजेक्शन दिया जाए।लेकिन इससे किसी की डोज पूरी नहीं हो रही थी। फिर लोगाें के साथ सहमति बनाकर अधिकारियों के निर्देश पर नौ गंभीर लोगों के तीमारदारों को वॉयल उपलब्ध कराई गई।

उधर, रविवार को भी रेडक्रास सोसाइटी के बाहर हंगामा बना रहा। इंजेक्शन लेने आए तीमारदारों की भारी भीड़ रही। जागरण ने आज रेडक्रास सोसाइटी में इंजेक्शन न मिलने की समस्या को प्रमुखता से …एम्फोटेरेसिन-बी की दुकान-दुकान तलाश… शीर्षक से उठाया है। इसे लेकर रेडक्रास सोसाइटी ने मंडलायुक्त को पत्र जारी कर अपनी दिक्कतें बताई हैं।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.