थानेदार निकला बेवफा तो शादीशुदा कॉन्स्टेबल ने कर लिया सुसाइड, पति बोला- मैं जानता था कि…

अररिया. बिहार के अररिया में एक महिला कॉन्स्टेबल द्वार खुदकुशी करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. अररिया जिला की महिला सिपाही श्रुति कुमारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. श्रुति का शव सिमराहा स्थित आवास पर फंदे से झूलता हुआ बरामद हुआ है. सिपाही श्रुति सिमराहा थाना में पदस्थापित थीं. सुसाइड की इस घटना में प्रेम-प्रसंग का मामला सामने आया है

जिसका आरोप थानेदार पर ही लगा है. सुसाइड की इस घटना के बाद SP हृदयकान्त भी घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जांच की. महिला कॉन्स्टेबल जो कि विवाहित थी, के पति के मुताबिक वो थानेदार के साथ ही रहना चाहती थी, लेकिन नरपतगंज थानाध्यक्ष किंग कुंदन ने जब उसे अफेयर के बाद भी अपनाने से इनकार कर दिया तो श्रुति ने अपनी जान दे दी. गौरव ने अपनी पत्नी श्रुति के आत्महत्या के लिए नरपतगंज थानाध्यक्ष किंग कुंदन को दोषी बताते हुए सिमराहा थाना में एक आवेदन दिया जिसके बाद SHO किंग कुंदन पर केस दर्ज हो गया है सूत्रों के मुताबिक सिपाही श्रुति और SHO किंग कुंदन के बीच कई दिनों से संबंध था और पहले भी इसको लेकर विवाद था. इसी तरह के विवाद का निपटारा पिछली वरीय पुलिस अधिकारी ने किया था. अपनी सिपाही पत्नी श्रुति को खो चुके पति गौरव, कहना तो बहुत कुछ चाह रहे थे, लेकिन हावभाव से सहमे हुए भी नजर आ रहे थे. उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि मैंने वरीय अधिकारियों को किंग कुंदन के खिलाफ लिखित शिकायत कर दी है लेट ही सही इंसाफ जरूर होगा चूंकि आरोपी एक थाने का दरोगा है. सिमराहा थाना में पदस्थापित महिला कॉन्स्टेबल ने फांसी से लटककर सांसों को अलविदा तो कह दिया, लेकिन श्रुति के पति गौरव कुमार के आते ही कहानी पलट गई और SHO किंग कुंदन को मुख्य आरोपी बनाते हुए केस भी दर्ज हो गया. श्रुति के पति गौरव कुमार गुप्ता ने अपने लिखित आवेदन में कहा है कि मेरी पत्नी को किंग कुंदन ने पहले साथ रखने की बात कही, लेकिन बाद में बच्चों की कसम देकर इस वादे से मुकर गया और मेरी पत्नी ने मानसिक रूप से प्रताड़ित होकर जान दे दी.

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.