CM योगी आदित्यानाथ: प्रदेश में विकास को तेज गति से आगे बढ़ाने के साथ नागरिकों के जीवन में परिवर्तन लाने का हो रहा प्रयास | LATEST NEWS | Soochana Sansar

CM योगी आदित्यानाथ: प्रदेश में विकास को तेज गति से आगे बढ़ाने के साथ नागरिकों के जीवन में परिवर्तन लाने का हो रहा प्रयास | LATEST NEWS

लखनऊ(आरएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को जनपद गोरखपुर के चम्पा देवी पार्क में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में सम्मिलित हुुए। इस अवसर पर उन्होंने 14 नवयुगलों को प्रमाण पत्र एवं उपहार सामग्री भेंट की। यह कार्यक्रम मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत आयोजित किया गया था।

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह में 1,000 से अधिक जोड़ों को दिया आशीर्वाद दिया

मुख्यमंत्री ने सामूहिक विवाह समारोह में 1,000 से अधिक जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि जिन परिवारों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी, ऐसे अनेक परिवारों की कन्याएं कुंवारी रह जाती थीं। वर्ष 2017 में प्रदेश में डबल इंजन की सरकार बनने पर इस समस्या के समाधान के लिए राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना प्रारम्भ की गयी। इस योजना में पहले 31 हजार रुपये की सहायता दी जाती थी, बाद में इस राशि को बढ़ाकर 51 हजार रुपये कर दिया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीब परिवारों की कन्याओं के विवाह के लिए मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत सामूहिक विवाह के कार्यक्रम निरन्तर आयोजित किए जा रहे हैं।

प्रदेश में अब तक लगभग 02 लाख युवतियों की शादी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत सम्पन्न करायी जा चुकी है। जनपद गोरखपुर में ही आज विवाह पंचमी के पर्व पर 1,000 से अधिक युवक और युवतियां वैवाहिक बंधन से जुड़ रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में विकास को तेज गति से आगे बढ़ाते हुए प्रत्येक नागरिक के जीवन में परिवर्तन लाने का प्रयास किया जा रहा है। समाज कल्याण विभाग के माध्यम से लगातार यह प्रयास हो रहा है कि समाज के प्रत्येक तबके को बिना भेदभाव शासन की योजनाओं का लाभ मिले। आज उसी मंशा के अनुरूप प्रधानमंत्री जी के ‘सबका साथ सबका विकास’ का मूर्त रूप सामूहिक विवाह कार्यक्रम यहां पर सम्पन्न हो रहा है।

 मुख्यमंत्री ने कहा कि आज आप अपने वैवाहिक जीवन का संकल्प लेने के साथ ही यह भी संकल्प लेंगे कि बाल विवाह नहीं होने देंगे। दहेज मुक्त वैवाहिक कार्यक्रम को ही प्रश्रय देंगे। दहेज जैसी कुप्रथा को समाप्त करेंगे और समाज में अगर कोई कुप्रथा है, उसे दूर करने मेें सभी लोग अपना योगदान देंगे। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *