चाइनीज उत्पादों के विरोध में व्यापारियों का अभियान आज से शुरू


-10 को जलायेंगे चायना उत्पादों की होली
-11 को करेंगे बाजारों, गली, मोहल्लों में लोगों को जागरुक
-भारतीय उत्पादों के साथ मनाये जायेंगे आने वाले सभी त्यौहार

लखनऊ ।(आरएनएस )चायना उत्पाद भारत छोड़ो, भारतीय सम्मान हमारा अभियान के नारे के साथ देश भर में व्यापारी चीन के खिलाफ एक नये अभियान की शुरूआत करेंगे। कनफेडरेशन ऑफ  ऑल इंडिया ट्रेडर्स के आहवान पर 9 अगस्त से इस अभियान का शुभारम्भ किया जायेगा। कन्फेडरेशन के चेयरमैन व उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापारमंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता ने बताया कि राजधानी सहित प्रदेश भर में 9 अगस्त को संगठन के पदाधिकारी अपने घरों में चाइना उत्पादों के बहिष्कार का संकल्प लेंगे। व्यापारी सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक करेंगे। 10 अगस्त को चाइना के उत्पादों की होली जलायेंगे। 11 अगस्त से बाजारों, मोहल्लों एवं कॉलोनियों में व्यापारियों एवं नागरिकों को चाइना के उत्पादों के पूर्ण बहिष्कार  करने के लिए जागरुक किया जायेगा। उन्होंने बताया कि चाइना के उत्पादों ने पिछले 20 वर्षों में भारतीय बाजार में अपना आधिपत्य जमाया हुआ है। चाइना के उत्पादों को भारतीय बाजार से बाहर करने के लिए काफी तैयारियां करनी होंगी। इसके लिए सरकार को भारतीय व्यापारियों को मजबूत करना पड़ेगा। भारतीय उद्योग को मजबूत करना पड़ेगा। भारतीय उत्पादों को चाइना के उत्पादों के सापेक्ष सस्ता एवं गुणवत्ता वाला बनाने के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं, छूट भारतीय उद्योंगो को देनी होंगी तथा स्वयं सरकार को चाइना की हर कंपनी  को  सरकारी विभागों में काम करने से अलग करना होगा। उन्होंने कहा कि सरकारी स्तर पर किसी भी प्रकार की कोई भी खरीद चाइना से नहीं करनी होगी। उन्होंने कहा कि चीन के रवैये से व्यापारी और देश की जनता सभी में आक्रोश भरा हुआ है। उन्होंने कहा कि जब तक अब भारत को पूरी तरीके से चाइना उत्पादों से मुक्त एवं भारत को आत्मनिर्भर नहीं बना लेंगे तब तक व्यापारी खामोश नहीं बैठेंगे। व्यापारी अपने आंदोलन को  चरणबद्ध तरीके से चलाते रहेंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले त्यौहारों पर चायना के उत्पादों को पूर्णत: बहिष्कार कर भारतीय उत्पादों का ही प्रयोग किया जायेगा। भारतीय उत्पादों के साथ ही सभी त्यौहार मनाये जायेंगे। 

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.