होम आईसोलेशन में रह रहे मरीज़ों से नियमित संवाद स्थापित किया जाय: अनीता सिंह

बहराइच कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम तथा बचाव के लिए की गयी व्यवस्थाओं की समीक्षा के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए नोडल अधिकारी प्रमुख सचिव खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश शासन श्रीमती अनीता सिंह ने निर्देश दिया कि कन्टेनमेन्ट ज़ोन के लिए शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइन तथा सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। होम आईसोलेशन में रह रहे मरीज़ों के साथ नियमित संवाद कायम रखकर उनके स्वास्थ के बारे में जानकारी प्राप्त की जाय।  


बैठक के दौरान नगर निकाय के अधिशाषी अधिकारियों व जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिया गया कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 महामारी तथा संक्रामक रोगों की प्रभावी रोकथाम के लिए साफ-सफाई, सेनिटाइज़ेशन तथा कूड़ा निस्तारण के माकूल बन्दोबस्त किये जायें। श्रीमती सिंह ने कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम में मास्क की उपयोगिता को देखते हुए निर्देश दिया कि प्रत्येक सप्ताह कम से कम 02 दिन माक्स के प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाय साथ ही मास्क का उपयोग न करने वाले लोगों पर अर्थदण्ड भी लगाया जाय।
नोडल अधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि दुकानदारों के लिए मास्क के उपयोग की अनिवार्यता को लागू कराया जाय। इसके लिए सम्बन्धित अधिकारी रैण्डमली प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर यह सुनिश्चित करायें कि सभी दुकानदार अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग करें। इसके अलावा कार्यालयों में भी मास्क के प्रयोग तथा मानक के अनुसार सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। श्रीमती सिंह ने निर्देश दिया कि एण्टीबाडी व रैण्डमली टेस्टिंग को भी बढ़ाया जाय। नोडल अधिकारी ने दवाओं की उपलब्धता बनाये रखने के साथ-साथ आवश्यक चिकित्सकीय उपकरणों को भी क्रियाशील रखे जाने का निर्देश दिया।
बैठक के दौरान नोडल अधिकारी ने जनपद में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति, पाॅज़िटिव मरीज़ों के उपचार की व्यवस्था, होम आईसोलेशन, एल-1 व एल-2 फैसिलिटी, निगरानी समितियों के कार्यों, सम्पर्कों व अन्य की रैण्डम जाॅच, आरटीपीसीआर, ट्रू-नाट व एंटीजन द्वारा जाॅच की स्थिति, कन्टेनमेन्ट ज़ोनों की व्यवस्था इत्यादि की गहन समीक्षा कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। नोडल अधिकारी ने अधि.अभि. बाढ़ खण्ड से नदियों के जल स्तर तथा तटबन्घों की सुरक्षा इत्यादि के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिया कि संवेदनशील स्थानों पर पूरी सतर्कता बनाये रखें।
इस अवसर पर जिलाधिकारी शम्भु कुमार, पुलिस अधीक्षक डाॅ. विपिन कुमार मिश्र, मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, ज्वाईन्ट मजिस्ट्रेट प्रशिक्षु आई.ए.एस. सूरज पटेल, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सुरेश सिंह, महाराजा सुहेल देव स्वशासी राजकीय मेडिकल कालेज के प्राचार्य डाॅ. अनिल के साहनी, जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, परियोजना निदेशक डीआरडीए अनिल कुमार सिंह, अधि.अभि. जल निगम आर.बी. राम व बाढ़ खण्ड के शोभित कुशवाहा, कोविड-19 नोडल डाॅ. ओ.पी. पाण्डेय, डी.पी.आर.ओ. उमाकान्त पाण्डेय, अधि.अधि. नगर पालिका परिषद बहराइच पवन कुमार व नानपारा के अशोक कुमार तिवारी, नगर पंचायत रिसिया के शैलेन्द्र मिश्र सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.