सुरक्षाबलों ने किया तीन आतंकियों का सफाया, एक जवान शहीद


श्रीनगर,29 अगस्त (आरएनएस)। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में घेराबंदी एवं तलाश अभियान के दौरान सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में शनिवार सुबह तीन आतंकवादी मारे गए। जबकि हमारा एक जवान शहीद हो गया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह, राष्ट्रीय राइफल और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने पुलवामा के जदूरा में कल देर रात तलाश अभियान शुरू किया था।

उन्होंने बताया कि सुरक्षाबल के जवान जब लक्षित क्षेत्र की ओर आगे बढ़ रहे थे तभी वहां छिपे हुए आतंकवादियों ने उन पर गोलियां चलाईं। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई में गोलीबारी की जिसके साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गई।
बता दें कि मारे गए आतंकियों के पास से एक एके-47 और दो पिस्टल बरामद हुए हैं। वहीं इस मुठभेड़ के दौरान एक जवान भी घायल हो गया। घायल जवान को उपचार के लिए सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दौरान जवान ने दम तोड़ दिया।
वही इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में शुक्रवार को मुठभेड़ में अलबदर के जिला कमांडर शकूर पर्रे समेत चार दहशतगर्दों को मार गिराया गया। ये भाजपा से जुड़े श्रीनगर के पंच निसार अहमद के अपहरण व हत्या में शामिल थे। इनसे दो एके 47 राइफल व तीन पिस्टल बरामद किए गए हैं। आईजी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि पंच के अपहरण व हत्या में शामिल शकूर और सुहैल भट समेत चार आतंकी मारे गए हैं। एक आतंकी को मौके से पकड़ा भी गया है।
शोपियां जिले के किलूरा इलाके में पुलिस को दो से तीन आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिली। इस पर सेना की 44 राष्ट्रीय राइफल्स, सीआरपीएफ और पुलिस ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान घेरा सख्त होने पर आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने पहले संयम बरतते हुए उन्हें समर्पण करने को कहा। इसके बाद भी वे नहीं माने और गोलीबारी करते रहे। जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई।
लगभग तीन घंटे चली मुठभेड़ में चार आतंकियों को मार गिराने में सफलता मिली। हालांकि, इनकी शिनाख्त नहीं हो पाई है, लेकिन उनके पास से मिले सामानों के आधार पर उनके अल बदर के होने का अंदेशा जताया जा रहा है। पुलिस ने बताया कि ऑपरेशन को काफी पेशेवर तरीके से अंजाम दिया गया। इस वजह से सुरक्षाबलों को किसी प्रकार का नुकसान का सामना नहीं करना पड़ा है।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.