राज्यसभा में पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को दी गई श्रद्धांजलि

नई दिल्ली, पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा नेता सुषमा स्वराज को राज्यसभा में श्रद्धांजलि दी गई।सुषमा का मंगलवार को  हृदय गति रूक जाने से दिल्ली के एम्स में निधन हो गया था। इस दौरान उपराष्ट्रपति राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि हमने राष्ट्र के एक सक्षम प्रशासक और लोगों की सच्ची आवाज को खो दिया।नायडू इस दौरान भावुक हो गए और उन्होंने कहा ‘ वो मेरी बहन की तरह थी। मुझे अन्ना कहती थीं और हर साल राखी बांधती थीं। बता दें कि बजट सत्र का आज अंतिम दिन था।   

इस दौरान नायडू ने बताया कि इस सत्र के 35 सीटिंग में 32 बिल पास हुए। यह पिछले 17 में सबसे बेहतर है। इससे पहले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सदन में उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीशों की संख्या बढ़ाने का बिल वापस ले लिया। इस बिल पर अगले सत्र में चर्चा होगी। सभापति ने कहा कि इसे मनी बिल के तौर पर लाया गया है, ऐसे में इसे सदन में चर्चा या पारित हुए बिना भी कानून बनेगा, लेकिन नेता प्रतिपक्ष ने उस पर चर्चा के लिए सहमति जताई है जो अच्छी बात है। इसके बाद सदन की कार्यवाही अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दी गई। 

इससे पहले मंगलवार को जम्मू कश्मीर राज्य पुनर्गठन बिल पास होने के बाद लोकसभा स्थगित कर दिया गया था। लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कहा ‘सुषमा जी भारतीय संस्कृति की दूत थीं। वह एक कुशल प्रशासक और संवेदनशील नेता थीं। आज पूरा देश उनकों खोने की वजह से दुखी है। वह सबकी परेशानियां समझती थीं और हल करती थीं। हम उनके परिवार के साथ हैं।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published.